पुरुषों में बाल झड़ने के कारण एवं समाधान

पुरुषों में बाल झड़ने के कारण: पुरुष हो या महिला सभी की खूबसूरती का राज होते हैं बाल। घने, मजबूत बाल सभी की पहली पसंद है। पुरुषों में परफेक्ट लुक के लिए बालों का परफेक्ट होना बहुत जरूरी है। लेकिन आजकल महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों में भी बाल झड़ना एक आम समस्या बन गई है। आहार में गड़बड़ी, बालो की सही तरीके से देखभाल न करना, हार्मोनल समस्या, प्रदूषण, तनाव आदि कारणों से पुरूषों में बाल झड़ते हैं। कंघी मे बाल दिखना, तकिए पर बाल, शैंपू करने के बाद बालो का झडना, कंघी करते वक्त बाल का झड़ना, फर्श पर बाल आदि दिखते हैं तो बाल ज्यादा झड़ने के लक्षण है और उन्हें देखभाल की जरूरत है। डॉक्टर बताते हैं कि 1 दिन में 50 से 100 बाल झड़ना सामान्य बात है लेकिन इससे अधिक गिरना सही नहीं है।

पुरुषों में बाल झड़ने के कारण

यह भी एक सच है कि गंजापन पुरुषों में अधिक देखने को मिलता है। पुरुषों में कुछ ऐसी आदतें होती है जिनका असर बालो पर पड़ता है और बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं। आइए जानते हैं इन आदतों के बारे में:

ज्यादा समय तक धूप में रहना:

कुछ पुरुषों को काम के समय में बहुत ज्यादा धूप में रहना पड़ता है। धूप में रहने से ज्यादा पसीना आता है। जिससे बालों की जड़ों में नमी बनी रहती है। साथ ही सूरज की किरणों के संपर्क में आने से बालों की जड़ों के अंदर मौजूद क्यूटिकल की परतें कमजोर हो जाती है। परिणाम स्वरूप क्यूटिकल्स टूटते हैं और बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं।

समाधान:

जब भी ज्यादा समय तक धूप में रहना हो तो टोपी (cap), छतरी (umbrella)का इस्तेमाल करें। सूती कपड़े से भी ढक सकते हैं ताकि सूरज की किरणे सीधे आपके बालों पर ना पड़े।

हर दिन शैंपू करना:

प्रदूषण, पसीना आदि वजहो से रोज शैंपू करना जरूरी है। लेकिन रोज शैंपू करना आपके बालों के प्राकृतिक तेल को निकाल देता है, और बालों को नुकसान पहुंचाता है। इससे बाल पतले और जड़े कमजोर होती है, इससे बाल भी झड़ते हैं।

समाधान:

रात को सोने से पहले या नहाने से पहले अपने बालों पर तेल लगाएं, मालिश करें। बालो से निकलने वाले प्राकृतिक तेल को कम कर देगा और बाल झड़ने से बच जाएंगे। हर्बल माइल्ड(mild) शैंपू एवं कंडीशनर का प्रयोग करें। हफ्ते में एक बार एंटी डैंड्रफ शैंपू और दो से तीन बार हर्बल माइल्ड शैंपू का प्रयोग करें।

हेयर स्टाइलिंग प्रोडक्ट का अधिक उपयोग:

कितने ही पुरुष हेयर जेल, हेयर स्प्रे , हेयर वेक्स(wax) और हेयर कलर का उपयोग नियमित रूप से करते हैं। इन सभी चीजों में केमिकल का उपयोग होता है जो बालों को नुकसान पहुंचाता है और बाल झड़ना शुरू कर देते हैं।

समाधान:

हेयर जेल स्प्रे और वेक्स का इस्तेमाल हर दिन की जगह सप्ताह में दो से तीन बार करें। अपने बालों के लिए हर्बल हेयर केयर या आर्गेनिक (organic) प्रोडक्टस का इस्तेमाल करें। हेयर कलर की जगह नेचुरल ऑर्गेनिक मेहंदी का प्रयोग कर सकते हैं। पैराबीन, अल्कोहल या अन्य केमिकल युक्त हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल ना करे।

स्मोकिंग करना:

धूम्रपान का सीधा असर फेफड़ों और बालों पर होता है। धूम्रपान से शरीर के अंदर का ऑक्सीजन लेवल प्रभावित होता है। अगर खून में ऑक्सीजन की मात्रा कम होगी तो बालों की जड़ों को भी भरपूर ऑक्सीजन नहीं मिल पाएगा। जिससे बाल पतले, कमजोर होकर गिरना शुरू कर देते हैं। अधिक धूम्रपान से बालों के डीएनए (DNA)को हानि पहुंचती है। धूम्रपान की वजह से शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है।

समाधान:

धूम्रपान आपके और आसपास के लोगों के लिए खतरनाक है। एकदम से धूम्रपान की आदत ना छूट पाए लेकिन कोशिश करें और धीरे-धीरे मात्रा कम करें। मुश्किल जरूर है पर नामुमकिन नहीं।

अत्यधिक तनाव(Stress):

यदि हमारे मस्तिष्क में किसी प्रकार की परेशानी चल रही है तो इसका सीधा असर बालों पर पड़ता है क्योंकि बालों की जड़ें और दिमाग की नसें एक ही जगह जुड़ी होती है। आप ज्यादा तनावग्रस्त होते हैं तो नींद की समस्या भी होती है और बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं।

समाधान:

छोटी-छोटी बातों को लेकर तनाव लेना या परेशान होना छोड़ दें। डॉक्टर के अनुसार तनाव के कारण हेयर फॉलिकल का बढ़ना कम हो जाता है या रुक जाता है। तनाव कम करने के लिए ली जाने वाली दवाओं से भी बाल झड़ते हैं। तनाव कम करने के लिए योगासन का प्रयोग करें। ध्यान और मेडिटेशन से बहुत आराम मिलता है। रात को निर्धारित समय पर सोएं और सुबह सही समय पर उठे। रोज एक ही समय पर सोने से नींद आने में दिक्कत नहीं होती है।

आहार (Food):

अपने आहार में पौष्टिकता से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करें। जीभ का स्वाद बालों की सेहत पर असर करेगा। इसलिए पौष्टिकता पहले और स्वाद बाद में। जंक फूड से कैलोरी (calorie)और फैट(fat) मिल जाते हैं पर पोषण नहीं। प्रोटीन और विटामिंस की कमी भी बालो के झड़ने की वजह होती है।

समाधान:

तैलीय पदार्थों से परहेज करें। आहार मे ताजे फल, सब्जियां, ड्राई फ्रूट, अंकुरित अनाज और डेयरी प्रोडक्ट्स को शामिल करें। बालों की सेहत के लिए बादाम, मछली, पालक ,आंवला, दूध, चुकंदर, मूंगफली आदि स्वास्थ्य वर्धक चीजों को शामिल करें।

उपरोक्त दी हुई ऐसी कोई भी आदत अगर आप में दिखाई दे तो कृपया करके उन्हें बदलने की कोशिश करें। सही आदत से हम अच्छे स्वास्थ्य का लाभ उठा पाएंगे। वैसे आदतों के अलावा भी कई अन्य कारण जिम्मेदार है बालों के झड़ने के।

हार्मोनल परिवर्तन:

सामान्य तौर पर टेस्टोस्टेरोन का ज्यादा होना या कम होना बालों के झड़ने का कारण है। किसी कारणवश हार्मोन्स में अचानक आए बदलाव भी बाल झड़ने की वजह होते हैं। आमतौर पर यह समस्या पुरुषों में 40 से 50 वर्ष की उम्र के बाद देखने को मिलती है लेकिन मॉडर्न लाइफस्टाइल और असंतुलित खाने की वजह से युवावस्था में भी यह समस्या शुरू हो गई है।

अनुवांशिक समस्या:

यानी जेनेटिक(genetic) हेरेडिटरी(Hereditary) समस्या। आपके दादा, पापा या मामा के बाल बहुत झडते होंगे और अनुवांशिकता के कारण आपको भी इस समस्या को झेलना पड़ रहा है।

अत्याधिक दवाइयों के सेवन के कारण:

शरीर में किसी गंभीर रोग के आने पर बालों का झड़ना आम बात है। लंबी बीमारी में दवाइयां भी लंबे समय तक लेनी पड़ती है, इसका सीधा असर बालों की सेहत पर होता है।

रोजाना बालों का झड़ना आम बात है लेकिन ज्यादा नहीं। अगर समय रहते बालों की देखभाल कर तो हेयर लॉस(loss) को रोका जा सकता है। रोजमर्रा मे इन निर्देशो का पालन करे:

एक्सरसाइज:

नियमित तौर पर व्यायाम बहुत जरूरी है। व्यायाम तनाव को कम करता है, आहार को भी अच्छी तरह से पचाता है जिससे आहार में उपलब्ध सभी पोषक तत्व शरीर को पर्याप्त मात्रा में मिल जाए, ब्लड सर्कुलेशन बराबर से होता है। स्वास्थ्य अच्छा होगा तो बाल भी अच्छे होंगे। कसरत करने से पसीना आता है और सिर पर सबसे ज्यादा पसीना होता है। पानी सूख जाता है और पसीने मे रहे नमक सिर के रोमछिद्रो को बंद कर देता है। अत: व्यायाम करने के बाद बालों को जरूर धोएं।

पानी की मात्रा बढाए:

शरीर में पानी की मात्रा कम ना होने दें। पानी शरीर की अशुद्धियों को निकालने में बहुत ही लाभदायक है।

  • शैम्पू केमिकल रहित और पीएच बैलेंस वाला ही उपयोग करे। सल्फर युक्त शैम्पू सिर के छिद्रो को बंद कर देते है।
  • रूखे -सूखे बालों पर कंडीशनर का इस्तेमाल करें। कंडीशनर बालो की जडो पर ना लगाए।
  • गर्म नारियल तेल से मसाज करें। सिर की त्वचा को साफ रखें जिससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाए और बालों का झड़ना रुक जाए।
  • बालों को धीरे-धीरे से थपथपा कर सुखाए, रगड़े नहीं।
  • “बालों को लाना मुश्किल है, बचाना आसान है” इसलिए नई टेक्नोलॉजी जैसे हेयर ट्रांसप्लांट आदि तकनीको से बाल झड़ना रोके और बाल वापस भी ला सकते हैं, उपयोग करें।
  • हेयर स्ट्रेटनिंग, ब्लान्डिग और आयरनिंग से भी बाल झड़ते हैं। नई हेयर स्टाइल करते समय कर्लीग (curling)आदि टूल्स का कम इस्तेमाल करें या ना करें। ब्लीच वाले हेयर कलर का प्रयोग ना करें। हेयर स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल करने से पहले बालों पर हेयर सिरम या हिट प्रोटेक्टर जरूर लगाएं।
  • बाइक या स्कूटर से सफर करते है तो अपने बालों को हेलमेट या स्कार्फ (scarf) से ढके ताकि बाल धूल, धूप, मिट्टी, प्रदूषण से बचे।

बहुत ज्यादा हेयर लॉस होने पर डर्मेंटोलॉजिस्ट की सलाह अवश्य लें ताकि सही समय पर सही उपचार संभव हो जाए।

बालों के साथ खिलवाड़ ना करें क्योंकि एक बार बालों की लाइफ खत्म हो गई तो फिर कुछ कर पाना मुश्किल है।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment